Hindi Nazm Shayari !! तवायफ़ !!

Hindi Nazm Shayari !! तवायफ़ !!

इश्क़ में भरे बाज़ार लड़कीयों कि जवानी बेची गयी
निलाम करने वाली जबान कि वो कहानी बेची गयी

हैं यहाँ पर कुछ खरीददार ऐसे जो देख बोली लगाते
उतारकर कपड़ो को औरत कि निशानी बेची गयी

आज़ाद कहाँ हुआ अभी तक यह वतन यह हिंदुस्तान
अलग - अलग लिबाज़ में औरत नई पुरानी बेची गयी

9 महीने पेट में रखकर जिस मर्द को जन्म दिया
एेसे किसी ना मर्द के हाथों उसकी जवानी बेची गयी

बदनाम होकर रह गया वो शख़्स वो शहर वो मोहल्ला
जिस शख़्स के हाथों माँ, बहन कि निशानी बेची गयी

गरीब बनकर रह गया गुलाम अमीर, हवसी लोगों का
यहाँ पर उठती आवाज अमीरों कि हुक्मरानी बेची गयी

उठकर उठाओ आवाज़ सब नर्क बनने से पहले दुनिया
सच को दबाकर यहाँ पर सरेआम बैमानी बेची गयी

Hindi Nazm Shayari !! तवायफ़ !!

hindi shayari, nazm shayari, hindi shayari images

You May Like

Love Shayari, Tere Husn Mein Wahi Adaa Purani Rakhi Hai
Zindagi Shayari 2 lines, Sad Zindagi Shayari in Hindi
Ashq Shayari 2 Lines,  New Ashk Shayari in Hindi

Kiran M Lavhate

Kiran M Lavhate "Prakash"

A young poet from India.
Kiran M Lavhate

Latest posts by Kiran M Lavhate "Prakash" (see all)

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sponsored

Like on Facebook