Author Archives: Sunny Singh "Akash"

Sunny Singh is a poet, author and publisher. He lives in Jawali city of India, and he has written various poems (Gazal and Nazm) in Hindi and Urdu language.

Attitude Shayari in Hindi | Attitude Status in Hindi

hindi shayari, attitude shayari in hindi, attitude shayari, ghazal shayari,

ज़माने से तेरी शख़्सियत को रूबरू करवा सकता हूँ
मुसव्विर तो नहीं हूँ फिर भी तेरी तस्वीर बना सकता हूँ
(मुसव्विर - painter, photographer, sculpture)

तुम्हें ही लड़ना होगा अपने हक़ के लिए यहाँ सब से
मैं तो ज्यादा से ज्यादा उम्मीद का दिया जला सकता हूँ

मेरे दुश्मनों को भी है खबर के अपनी पे आ जाऊं तो
मिस्मार कर के मैं उन्हें उन्हीं का मलबा बना सकता हूँ
(मिस्मार - demolished, razed, ruined, तबाह)
(मलबा - debris, refuse, garbage)

तू बस इशारा भर तो कर मुझे कभी मेरे साथ होने का
तेरी सुलगती हसरतों को अपने दिल में भड़का सकता हूँ

तुम्हें जिस ज़माने से है डर मैं उसी से खेला हूँ कई मर्तबा
वो इक राह रोक भी लें तो मैं कई रास्ते बना सकता हूँ

moral stories in hindi, hindi moral stories, moral stories for kids

Moral Story : चतुर गणना

बादशाह अकबर को अपने दरबारियों को पहेलियां डालने की आदत थी। वह अक्सर सवाल पूछते थे जो अजीब और मजाकिया थे। इन सवालों का जवाब देने में बहुत बुद्धिमत्ता लगती थी।

एक बार उन्होंने एक बहुत ही अजीब सवाल पूछा। उसके सवाल से दरबारियों को हतप्रभ किया गया।

अकबर ने अपने दरबारियों पर नज़र डाली। जैसा कि उसने देखा, एक-एक करके सिर उत्तर की तलाश में झुकने लगे। उसी समय बीरबल ने आंगन में प्रवेश किया। बीरबल जो सम्राट की प्रकृति को जानता था, ने स्थिति को जल्दी से पकड़ लिया और पूछा, "क्या मैं प्रश्न जान सकता हूँ ताकि मैं उत्तर के लिए कोशिश कर सकूं"।

अकबर ने कहा, "इस शहर में कितने कौवे हैं?"

एक पल के भी विचार के बिना, बीरबल ने उत्तर दिया "पचास हजार पांच सौ नवासी कौवे हैं, जहाँपनाह"।

"आपको इतना यकीन कैसे हो सकता है?" अकबर ने पूछा।

बीरबल ने कहा, "आप पुरुषों की गिनती करें, जहाँपनाह। अगर आपको अधिक कौवे मिलते हैं तो इसका मतलब है कि कुछ अपने रिश्तेदारों से मिलने आए हैं। यदि आपको कौवे की संख्या कम मिलती है तो इसका मतलब है कि कुछ अपने रिश्तेदारों से मिलने गए हैं।"

बीरबल की बुद्धि से अकबर बहुत प्रसन्न हुआ।

Moral of Story: बुद्धिमत्ता से दिया गया उत्तर ही उद्देश्य को पूरा करेगा 

Hindi Translation of Moral Story: "A Wise Counting"

Ishq shayari, love status in hindi, ghazal shayari, new shayari, latest shayari, sad status in hindi, sad shayari

तेरी मज़बूरियां भी मेरे सर आँखों पर मुझे इश्क़ में पर बग़ावत रास आती है

शहर भर से बस अदावत रास आती है
मुझे बिन ताज के हुकूमत रास आती है

तू सितम करने से परहेज़ नहीं करता
मुझ को तेरी यही आदत रास आती है

जिसकी तलब में ज़ख्म हरे रहें दिल के
उसी शख़्स की मोहब्बत रास आती है

मैं कैस-ओ-कोहकन का मुरीद हूँ मुझे
मिट जाने की बस रिवायत रास आती है
(क़ैस-ओ-कोहकन=मजनूं और फ़रहाद)

तेरी मज़बूरियां भी मेरे सर आँखों पर
मुझे इश्क़ में पर बग़ावत रास आती है

Sad status in hindi, sad shayari, instagram shayari, WhatsApp sad status

Sad Status in Hindi for Facebook

सिगरेट पे सिगरेट पिते जा रहा हूँ
धुआँ- धुआँ मैं होते जा रहा हूँ
शाखे-उल्फ़त से टूटा हुआ गुल हूँ मैं
रफ़्ता -रफ़्ता यारों मुरझाते जा रहा हूँ

Sad Shayari, sad status in hindi, ghazal shayari, image shayari, WhatsApp shayari

Sad Shayari in Hindi

तुम मेरे लिए ग़र ख़्वाब हो तो फ़िर ख़्वाबों में मिलो तुम्हारा होना मुझको हक़ीक़त में भी नहीं लगता है

तुम्हारी क्या किसी की सोहबत में भी नहीं लगता है
अब तो दिल उस की मोहब्बत में भी नहीं लगता है

इस दिल को जब रोग ही ग़र इश्क़ के हों तो यारों
दिल घर में क्या फ़िर ज़न्नत में भी नहीं लगता है

तेरा ग़म रहे तो दिल को फ़िर भी कोई मसअला है
ये भी ग़र ना हो तो दिल फ़ुर्सत में भी नहीं लगता है

तुम मेरे लिए ग़र ख़्वाब हो तो फ़िर ख़्वाबों में मिलो
तुम्हारा होना मुझको हक़ीक़त में भी नहीं लगता है

यूँ तो मैं जाता तो हूँ कभू कभू मस्जिद "आकाश"
जी मगर उसके बगैर इबादत में भी नहीं लगता है

9/9/2019 9:31PM

Love shayari, love status in hindi, Ghazal shayari

Sad Love Shayari in Hindi

वो जानता है के मैं नहीं सुनता किसी की भी फ़िर भी मुझ को वो मज़बूर करने आया था

कलियों के लबों का तबस्सुम खरीदने आया था
मैं तुम्हारे शहर में अपने कुछ दर्द बेचने आया था

तुम ने भी सुधार दिया तो फ़िर जियूँगा कैसे मैं
तुम्हारे पास तो आख़िर मैं बिगड़ने आया था

वो तो मेरी लाश पर से भी गुज़रने को तैयार था
मैं बेवजह ही उस क़ातिल को रोकने आया था

वो जानता है के मैं नहीं सुनता किसी की भी
फ़िर भी मुझ को वो मज़बूर करने आया था

तुमने क़ैद कर लिया है मुझे उम्र भर के लिए
मैं तो बस पल भर के लिए बहकने आया था

मैंने सुना था के सुकूँ बहुत है उस की बज़्म में
सो दावत उस के जल्वों की उड़ाने आया था

सुना था बहुत के उस की आँखें बोला करती हैं
सो "आकाश" मैं भी उन्हीं को देखने आया था

8/9/2019 10:21AM

Himachali Kavita

Pahari Ghazal, pahari poems, pahadi kavita, himachali Ghazal, himachali sahitya, himachali kavita

Himachali / Pahari Ghazal | जे तू भी नी पूछणा ए हाल असां बेसबरां दा

तारेयां जो भी नी रेहणा फिर आसरा अंबरां दा
जे तू भी नी पूछणा ए हाल असां बेसबरां दा

इक उदा दुख मिंझो उपरों तानेयां मारत्ता लोक्कां
रब्बा मुह कैणी नोची लैंदा एं तू इणा कंजरां दा

असां तां मुकी जाना हो हून ईयां ही कुसे रोज़
ओणा नी कदी भी कोई दिन असां लेई पुंगरां दा

ऐ प्यार-मोहब्बत तां "आकाश" होने ने अमीरां लेई
असां तां सबेरे-शामी गोआ ई चुकाना ए डंगरां दा

5/9/2019 3:05PM

Sad shayari status in hindi, sad shayari, sad status in hindi, Ghazal shayari

Ghazal Shayari - Jab Se Main Tumse Door Ho Gya Hun

जब से मैं तुम से जो दूर हो गया हूँ
तब से मैं जाँ कुछ और हो गया हूँ

मैं फ़क़त जिस्म से ही नहीं हुआ हूँ
मैं जहन से भी कमज़ोर हो गया हूँ

जो भी उगलता है ज़हर तेरे लिए
मैं भी उसके लिए ज़हर हो गया हूँ

कुछ हलातों ने कर दिया मुझे ऐसा
कुछ वक्त के साथ कठोर हो गया हूँ

अब छुपते-छुपाते जो देखता हूँ तुम्हें
तो अपनी नज़र में भी चोर हो गया हूँ

तेरे बाद तो मेरा दिल ही जानता है
के मैं किस-किस से दूर हो गया हूँ

Sad Shayari In Hindi | Sad Status in Hindi for WhatsApp

बेवफ़ा  वो  याद  जब  भी  आँखें आ गईं
दिल की  दीवारों  पे  फिर  दरारें  आ गईं

मैंने  ख़्वाब  तुम्हारा  देख तो  लिया  मगर
मुसलसल  जागते  रहने  की  रातें  आ गईं

मैंने जब भी चाहा के  भूल जाऊं  उसे अब
रात के सन्नाटे में  उस की  आवाज़ें आ गईं

अब जुदाई है तो फिर जुदाई ही रहे दरमियाँ
ये ज़बाँ पे  हमारी  कैसी  मुनाजातें  आ गईं
(मुनाजातें - prayers)

तसव्वुर में जब मिलन की तलब हुई उससे
मेरे गले में "आकाश" उस की  बाहें आ गईं

21/8/2019 1:19PM
#SunnySinghAkash

Sad status in hindi, sad shayari, sad love shayari, Ghazal shayari, sad love shayari, sad romantic shayari

तुमने जब मेरी तरफ़ प्यार से देखा था
मैंने फिर पहरों तेरे बारे में ही सोचा था

रात भर कई दफ़ा मैं सो नहीं पाया था
तेरी याद ने कई दफ़ा इतना सताया था

ज़माना जब दरमियाँ हमारे आ बैठा था
तुमसे ही नहीं मैं खुद से भी बिछड़ा था

जुदा हो गए दुःख तो है मगर फिर भी
ग़नीमत है इक-दूजे को बेहद चाहा था

जो हुआ "आकाश" इश्क़ में ही तो हुआ
जैसा भी था, इश्क़ ही तो था, अच्छा था

sad status in hindi, sad status, Ghazal shayari, sad love shayari in hindi, sad romantic shayari

Sponsored

Like on Facebook

x